एक पुलिस वाला… जिसका काम सुनकर सम्मान में खड़े हुए बिना नहीं रह सकेंगे आप

किसी पुलिस वाले का नाम सुनकर आम आदमी के मन में कुछ अच्छे ख्याल नहीं आते हैं, लेक‍िन उत्तराखंड के कुछ पुलिस वाले इस सोच को बदलने में जुटे हुए हैं. इनमें से ही एक पुलिस वाले के बारे में हम आपको बता रहे हैं. इस पुलिस वाले के बारे में जानने के बाद पुलिस वालों को लेक‍र बनी आपकी सोच ही बदल जाएगी.

टिहरी गढ़वाल से है नाता
हम बात कर रहे हैं टिहरी गढ़वाल जिले के नरेंद्र नगर के थानाध्यक्ष राम किशोर सकलानी की. इनकी चर्चा आजकल पूरे उत्तराखंड में हो रही है. और हो भी क्यों न. दरअसल राम किशोर सकलानी पुलिस की ड्यूटी करने के साथ ही समाज में बदलाव लाने के लिए भी काम कर रहे हैं.

युवाओं को दे रहे श‍िक्षा
वह हर दिन अपनी ड्यूटी के बाद यहां के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार कर रहे हैं. वह नरेंद्र नगर थाने के आसपास क्षेत्र के सैकड़ों छात्र-छात्राओं को कोचिंग दे रहे हैं. इसके साथ ही वह उन्हें शारीरिक प्रश‍िक्षण भी देते हैं.

करते हैं प्रेरित
यही नहीं, उन्हें जब भी मौका मिलता है, वे युवाओं को 12वीं पास करने के बाद प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने के लिए प्रेरित भी करते हैं. वह पिछले करीब आठ महीनों से यहां बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार कर रहे हैं. और वो भी फ्री में.

फ्री में देते हैं सेवा
राम क‍िशोर सकलानी नेे छात्र-छात्राओं के पठन पाठन के लिए काफी सारी व्यवस्थाएं की हुई हैं और ये सारी व्यवस्था उन्होंने अपने स्तर पर की है. उन्होंने अब थाने के हॉल में ही लाइब्रेरी खोलने की भी योजना बनाई है.

उत्तराखंड पुलिस का शुक्र‍िया
सिर्फ राम क‍िशोर सकलानी ही नहीं, बल्कि उत्तराखंड के अन्य जिलों की पुलिस भी मित्रता, सेवा और सुरक्षा के अपने मंत्र को पूरा करने में जुटी हुई है. खाली हो चुके गांवों में बुजुर्गों का सहारा भी अब पुलिस ही बन गई है. पौड़ी गढ़वाल समेत अन्य जगहों पर पुलिस ही बुजुर्गों को सहारा देने का काम कर रही है.

Leave a Reply