आयरन मैन समेत इन हॉलीवुड फ‍िल्मों का है उत्तराखंड से खास नाता

आयरन मैन और गेम ऑफ थ्रोन्स सीरीज समेत हॉलीवुड फिल्मों का जलवा हमारे दिलो-दिमाग पर छा जाता है. वैसे तो इन फ‍िल्मों का भारत से कोई खास कनेक्शन नहीं है, लेक‍िन उत्तराखंड से जरूर है. उत्तराखंड से इसका जो कनेक्शन है, उसके बिना इन फिल्मों में एक्शन संभव ही नहीं है.

हॉलीवुड फिल्मों में एक्शन उत्तराखंड की वजह से
न गेम ऑफ थ्रोन्स और आयरन मैन की शूट‍िंग उत्तराखंड में हुई है और ना ही इन फिल्मों में काम करने वाले उत्तराखंड के हैं. फिर भी उत्तराखंड से इनका जो कनेक्शन है, उसके बिना इन हॉलीवुड फिल्मों में एक्शन हो पाना संभव ही नहीं है.

ये दो कंपनियां निभाती हैं अहम भूमिका
आप कभी देहरादून जाएं, तो राजपुर रोड से गुजरते वक्त गौर कीजिएगा. यहां आपको दो कंपनियां दिखेंगी. एक का नाम है, लॉर्ड ऑफ बैटल्स और दूसरी है, विंडलैस. ये दो कंपनियां गेम ऑफ थ्रोन्स, आयरन मैन और होबिट जैसी फिल्मों के एक्शन को दमदार बनाने का काम करती हैं. दरअसल ये कंपनियां इन फिल्मों में इस्तेमाल होने वाली तलवारें, कवच, हथ‍ियार, मुकुट समेत अलग-अलग तरह के गैजेट्स तैयार करती हैं.

लॉर्ड ऑफ बैटल्स
अगर आप ने गेम ऑफ थ्रोन्स सीजन 4 देखा होगा, तो उसमें इस्तेमाल किए गए कवच, तलवारें और अन्य ऐसी ही चीजें लॉर्ड ऑफ बैटल्स ने बनाई हैं. इस कंपनी ने रंकस्टॉन्क, होबिट, मी‍डी, एक्सकैलिबर समेत कई फिल्मों के लिए एक्सेसरीज तैयार की हैं. कई अंतरराष्ट्रीय वेब और टीवी सीरीज को भी कंपनी सप्लाई करती है.

सेना में कैप्टन ने शुरू की कंपनी
इस कंपनी की शुरुआत 2005 में सेना में कैप्टन रह चुके सौरभ महाजन ने की थी. सबसे खास बात यह है कि यह कंपनी बॉलीवुड फिल्मों को अपनी सेवा नहीं देती है. इसका पूरा कारोबार हॉलीवुड, ब्रिटेन, अमेरिका, रूस और फ्रांस जैसे देशों से आने वाले ऑर्डर्स पर टिका है.

विंडलैस के बारे में
विंडलैस की शुरुआत 1943 में वेद प्रकाश विंडलैस ने की थी. इस कंपनी ने आयरन मैन फिल्म में यूज किए जाने वाले कवच, हथियार व अन्य कई चीजें बनाई हैं.

इन फिल्मों को भी दी है अपनी सेवा
कंपनी ने पाइरेट्स ऑफ करीबियन, बैटमैन बिगिन्स, जेम्स बॉन्ड मूवी क्वॉन्टम ऑफ सोलेस और स्पाई क‍िड्स 2 समेत कई फिल्मों के लिए एक्सेसरीज तैयार की हैं. यह कंपनी डिस्कवरी और एचबीओ जैसे चैनल के लिए भी सामान तैयार करती है.

गोरखा खुकरी बनाती थी यह कंपनी
यह कंपनी शुरुआत में ब्रिट‍िशर्स के लिए गोरखा खुकरी बनाने का काम करती थी. वेदप्रकाश जी अंबाला कंटोनमेंट से निकलकर यहां आए और उन्होंने चंद स्थानीय कारीगरों के साथ मिलकर इस कारोबार की शुरुआत की. खुकरी बनाने वाली यह कंपनी अब हॉलीवुड फिल्मों में इस्तेमाल होने वाले हर सामान को तैयार करती है. वेद प्रकाश विंडलैस पहले शख्स थे, जिन्होंने देहरादून में कारोबार की नींव डाली. आज इस कंपनी के ऑफिस अमेरिका समेत कई देशों में हैं.

सामान की खासियत
ये सामान कोई ऐसा-वैसा सामान नहीं होता. इन सामान को तैयार करने में कई दिनों और हफ्ते लग जाते हैं. मांग के हिसाब से हल्का और भारी बनाया जाता है, लेकिन ये इतने मजबूत होते हैं कि इन्हें तोड़ पाना मुश्क‍िल होता है.

हॉलीवुड फिल्में इनसे ही क्यों मंगाती हैं?
हॉलीवुड फिल्मों को बनाने वाले देहरादून की दो कंपनियों से ही क्यों यह सामान लेती हैं, तो इसकी दो वजहे हैं. पहली, ये हथियार, कवच और मुकुट पूरी तरह से हाथ से बनाए जाते हैं. दूसरी, उन्हें यहां से खरीदना काफी सस्ता पड़ता है. उन्हें बेहतर क्वालिटी का माल काफी कम दामों में मिल जाता है.

इस खबर को देखें वीडियो

Leave a Reply