Monthly Archives: September 2018

इस मंदिर में पूजा करने से डरते हैं लोग, इस एक वजह से खाते हैं खौफ

यह मंदिर उत्तराखंड में बल्त‍िर गांव में है. यहीं स्थाप‍ित है यह मंदिर. यहां भक्त आते हैं. दूर से दर्शन करते हैं. लेक‍िन पूजा कोई नहीं करता.

Read more

लोक कथा: भढ़ अजू बफौल

उत्तराखंड की एक और लोक कथा… राजाओं और देवताओं के दरबार से..

Read more

जेम्स बॉन्ड: जब पाकिस्तान के एजेंट बने अजीत डोभाल

देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को ही रियल लाइफ का जेम्स बॉन्ड कहा जाता है. इनकी जिंदगी किसी जासूसी फिल्म की कहानी से कम नहीं है.

Read more

आज जो आप Facebook चला रहे हैं तो मार्क नहीं, इनकी कृपा है

आज हर किसी की जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुकी ये वेबसाइट बंद हो चुकी होती, अगर इसके संस्थापक मार्क जुकरबर्ग उत्तराखंड में नीम करोल बाबा से मिलने न आए होते.

Read more

पेशावर कांड के इस हीरो को ‘बड़े भाई’ कह कर बुलाते थे गांधी-नेहरू

पेशावर कांड के हीरो चंद्रसिंह गढ़वाली गांधी और नेहरू के काफी करीब थे…

Read more

क्या होगा अगर कभी टिहरी डाम टूटा? जवाब- डरा देगा

अगर कभी टिहरी डाम टूटता है. तो इससे होने वाली हान‍ि की आप कल्पना भी नहीं कर सकते. इस बांध को खाली होने में सिर्फ 22 मिनट का समय लगेगा.

Read more

एकता बिष्ट: पिता ने चाय बेचकर बनाया क्र‍िकेटर, बेटी ने ऐसे ऊंचा किया नाम

उत्तराखंड ऐसी शख्सियतों से भरा हुआ है. जिनका नाम लेते ही हमारा माथा ऊंचा हो जाता है और एकता बिष्ट भी उसी में से एक हैं.

Read more

लोक कथा: लाटा की ईमानदारी ने बेइमानों की चालाकी को पछाड़ दिया….

लोक कथा: एक सीधे और साधारण व्यक्ति की ईमानदारी को भगवान भी पसंद करता है, लेकिन बेइमानों को अपनी चालाकी कीमत चुकनी पड़ती है.

Read more

ये अक्षय कुमार की फिल्म नहीं, उत्तराखंड की टॉयलेट: एक प्रेम कथा है…

सच्ची घटनाओं पर फिल्म बनाना आम बात है. लेकिन फिल्म की काल्पनिक कहानी सच हो जाए. ये कम ही सुनाई देता है.

Read more

शहीद की आत्मा आज भी सीमा पर है तैनात, चीन भी इसका मुरीद

कहने को तो वो जवान 1962 के भारत-चीन युद्ध में शहीद हो चुका है. लेकिन आज भी वह सीमा पर तैनात है और देश की रक्षा में जुटा हुआ है.

Read more
« Older Entries