जिस तस्वीर को आप व्हाट्सऐप पर शेयर कर रहे हैं, उसने उत्तराखंड में हलचल मचाई है

आजकल सोशल मीडिया पर एक तस्वीर खूब वायरल हो रही है। एक व्हिस्की की बोतल पर हिल टॉप लिखा हुआ है। फेसबुक से लेकर व्हाट्सऐप तक, हर जगह ये तस्वीर शेयर हो रही है। पहली नजर में ये तस्वीर फोटोशॉप से बनाई हुई लगती है, लेकिन उत्तराखंड में इस तस्वीर के पीछे हलचल मची हुई है।

दरअसल हिल टॉप के लेबल वाली ये व्हिस्की उत्तराखंड में शराब फैक्ट्री के विवाद की जड़ है। देवप्रयाग के हिल टॉप पर शराब फैक्ट्री खोली जा रही है। इसके बाद उत्तराखंड के राजनीतिक गलियारों में हलचल मची हुई है।

नेटवर्क 18 की एक रिपोर्ट के मुताबिक देवप्रयाग में शराब फैक्ट्री खोलने को कांग्रेस ने मुद्दा बना दिया है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इस संबंध में ट्वीट किया है। उसके बाद आम से लेकर राजनेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।

कांग्रेस का कहना है कि जब उनके कार्यकाल में ये प्रोजेक्ट शुरू हुआ था। तब बीजेपी ने सड़कों पर उतरकर विरोध किया था। अब चुपचाप इस प्रोजेक्ट को आगे बढ़ा रही है।

हरीश रावत ने एक ट्वीट कर इस मुद्दे को उठाया। उनके ट्वीट के बाद ही इस मुद्दे पर बहस शुरू हुई। अब कांग्रेस के बाद राज्य के साधु-संतों ने भी सरकार को दखल देने के लिए कहा है।

साधु-संतों का कहना है कि देवप्रयाग देवों की धरती है। वहां शराब की फैक्ट्री स्थापित करना कतई सही नहीं है।

हरीश रावत ने कुमाऊंनी और हिंदी में ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट में पूछा कि जब वह अपने कार्यकाल में फलों, साग-सब्जियों की एल्कोहल युक्त फ्रूटी बनाने के लिए बात कर रहे थे तब खूब विरोध हुआ था। अब जब धर्मनगरी देवप्रयाग के हिल टॉप में व्हिस्की परोसने के प्रोजेक्ट पर सरकार काम कर रही है तो अब सब क्यों खामोश हैं?

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.