‘मेरा भोला है भंडारी’ फेम बाबाजी को कितना जानते हैं आप?

मेरा भोला है भंडारी
करता नंदी की सवारी

ये वो गीत है, जिसका जादू न सिर्फ शिव भक्तों पर बल्कि पूरे देश और दुनिया के सिर चढ़कर बोला है। इस गीत ने बच्चों से लेकर बूढ़ों को अपनी धुन पर झूमने पर मजबूर किया है। सिर्फ यही गीत नहीं बल्कि आग लगे चाहे बस्ती में, बाबा तो रहता मस्ती में और अब शेरावाली। इन सब हिट गीतों से एक ही नाम जुड़ा है, बाबा हंसराज रघुवंशी। 

लेकिन क्या आपको पता है कि जो इंसान आज आपको सफलता की चोटी पर झूमता नजर आ रहा है।… उसके पैरों पर कितने छाले हैं?.. क्या आपको पता है कि कभी हंसराज ने आपके घर खाने की डिलीवरी की है?… नहीं पता है न… लेकिन इस वीडिटो में हम आपको बता रहे हैं बाबा के संघर्ष की वो अनकही बातें जिनके बारे में आपको शायद ही पता होगा। 

गायक बनना नहीं था सपना
हंसराज रघुवंशी देवों की भूमि हिमाचल के सोलन से हैं। हंसराज जब बड़े हो रहे थे तो वह गाना गाना शुरू कर चुके थे। स्कूलों में गीत गाने में वह आगे रहते थे लेकिन एक आम परिवार की तरह ही उन्होंने भी कुछ सपने देखे थे। हंसराज गाते जरूर थे, लेकिन गायक बनना उनका सपना नहीं था। वह हमेशा पुलिस अधिकारी बनने का ख्वाब देखते थे। हंसराज ने हिमाचल के अलावा दिल्ली में भी पढ़ाई की लेकिन आर्थिक परस्थितियों ने साथ नहीं दिया और वह ग्रैजुएशन पूरा नहीं कर पाए।

गुजारा करने के लिए बर्तन धोए
हंसराज जब कॉलेज में थे तो उन्होंने पढ़ाई के साथ कॉलेज कैंटीन में ही काम करना शुरू कर दिया। वह कॉलेज कैंटींन में बर्तन धोया करते थे। इस तरह वह अपना गुजारा करने के लिए पैसे जुटा लेते थे। ऐसा नहीं है कि हंसराज अपने पहले ही गीत से स्टार बन गए थे, बल्कि  पहला गीत लाने के बाद उन्होंने फिर डिलीवरी ब्यॉय का काम किया और घर-घर में खाना डिलीवर किया। 

कैसे बने गायक?
हंसराज बचपन से ही गाते थे लेकिन गायकी में उनका डेब्यू कराने का श्रेय गायक सुरेश वर्मा को जाता है। एक इंटरव्यू में हंसराज ने खुद बताया कि सुरेश वर्मा ने उन्हें गीत गाने के लिए कहा। हंसराज ने सुरेश को गाना लिखने को कहा। ऐसे हुई जुगलबंदी और साथ आया मेरा भोला है भंडारी गीत। वो गीत जिसने हंसराज को देश के हर घर में पहुंचा दिया।

जमीन से जुड़े रहेंगे
हंसराज चाहे कितने भी बड़े स्टार न बन जाएं, लेकिन वह कहते हैं कि मैं अपनी जमीन यानि हिमाचल से कभी मुंह नहीं मोड़ूंगा। यही वजह है कि उन्होंने कई खूबसूरत गीत हिमाचली भाषा में भी पेश किए हैं। 

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.