सोनू निगम की ये बात हर प्रवासी मान जाए तो बदल जाएगी उत्तराखंड की सूरत!

कोरोना की महामारी ने पूरी दुनिया को जैसे रोक सा दिया है। अपने घरदेश छोड़ कर परदेश आए प्रवासी अब अपने घरों को लौट रहे हैं। इस मामले में उत्तराखंड भी अछूता नहीं है। घर लौटे इन प्रवासियों के लिए बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम ने एक बहुत ही अहम संदेश भेजा है। 

सोनू निगम ने एक वीडियो जारी कर उत्तराखंड को लेकर बात की है। उन्होंने इस वीडियो में उत्तराखंड की सबसे गंभीर समस्या पलायन पर शोक जताया। लेकिन इससे भी ज़रूरी वो बात है जो उन्होंने घर लौटे प्रवासियों के लिए कही है। 

सोनू निगम ने अपने इस वीडियो संदेश में कहा है कि कई प्रवासी अपने घऱदेश वापस लौट चुके हैं। कई और लौट भी रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड ने पलायन की मार झेली है। ऐसे में अब जो लोग वापस आए हैं, उन्हें स्वरोज़गार शुरू करने पर फ़ोकस करना चाहिए।

सोनू निगम ने सुझाव दिया कि प्रवासी स्वरोज़गार करें। अपने गाँव और अपने परिवार के पास रहें। स्वरोज़गार कर अपने उत्तराखंड का विकास करें

सोनू ने पहाड़ों में काम करने वाली संस्था हंस फ़ाउंडेशन का भी ज़िक्र किया। उन्होंने कहा कि हंस फ़ाउंडेशन और संजय दरमोड़ा जी लगातार यहाँ काम कर रहे हैं। और ये लोग आपके लिए खड़े हैं। उन्होंने कहा कि मैं उम्मीद करता हूँ कि आप इनकी मदद पा सकें। सोनू ने सबकी खुशामदी की दुवाएं कर वीडियो ख़त्म किया। 

उत्तराखंड से सोनू का गहरा नाता
ऐसा पहली बार नहीं है जब सोनू निगम का उत्तराखंड के प्रति प्रेम उमड़ा हो। बता दें कि सोनू निगम का उत्तराखंड से गहरा कनेक्शन है। उनकी माँ का मायका रुद्रप्रयाग में धारी देवी के नज़दीक स्थित ठामक गाँव है। सोनू ने कई गढ़वाली फ़िल्मों में भी अपनी आवाज़ दी है। 

सिर्फ़ यही नहीं, नंदा गीतांजली एल्बम में उन्होंने माँ नंदा को समर्पित एक गीत भी गाया था। सोनू ने एक बार कहा था कि जितना प्यार वह अपनी माँ से करते हैं, उतना ही प्यार उन्हें उत्तराखंड से है। सोनू निगम को अपने ननिहाल के अलावा ऋषिकेश और हरिद्वार में गंगा आरती देखना काफी पसंद है। 

सुनिए सोनू का वीडियो मैसेज

 

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.